Ad Code

एनटीटी के अभ्यर्थी 1 साल से कर रहे परिणाम का इंतज़ार

घर पर रहें,  सुरक्षित रहें ! सोशल डिस्टेंस बनाए रखें !



संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी / गोविंद सैनी


जयपुर @ (संस्कार न्यूज़ ) एनटीटी अभ्यर्थी लंबे समय से भर्ती परीक्षा के बाद नियुक्ति व फर्जी डिग्रीधारी वालों पर कानूनी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं | लेकिन सरकार 1 साल से इस और ध्यान नहीं दे रही है |


फाईल फोटो




राजस्थान राज्य पूर्व प्राथमिक शिक्षक संघर्ष समिति प्रदेश महासचिव विष्णु शर्माने बताया कि राज्य सरकार कि बजट घोषणा 2018 में महिला बाल विकास विभाग में पूर्व प्राथमिक अध्यापकों की 1000 पदों के लिए घोषणा की गई थी, जिसकी चयनबोर्ड  ने  24 फरवरी 2019 को भर्ती परीक्षा आयोजित करवाई थी | उस परीक्षा में 17521 अभ्यर्थी शामिल हुए ,जबकि 24000 से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था |


राजस्थान में 2700 के करीब एनटीटी अभ्यर्थीयो ने प्रशिक्षण प्राप्त किया था | उनमें से पिछली दो भर्तियों में अधिकांश अभ्यर्थियों का चयन हो चुका है ,जबकि 1300 के करीब अभ्यर्थी शेष रहे | इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थीयों का शामिल होना फर्जी डिग्रियों की आशंका को जाहिर करता हैं | जबकि यह कोर्स राजस्थान में 2010 में बंद हो चुका है |


24 फरवरी 2019 को परीक्षा आयोजित  होने के बाद सितम्बर में दस्तावेजों की जांच हुई थी | सात आठ माह गुजर गए लेकिन अभी तक अंतिम परिणाम जारी नहीं हुआ, ना ही फर्जी डिग्री वालों  पर कोई कानूनी कार्रवाई हुई है |


सरकार से अभ्यर्थियों ने आग्रह किया है कि कोरोना महामारी और महिला बाल विकास विभाग में ग्रीष्मकालीन अवकाश नही रहता है | जिसके कारण राज्य सरकार लॉक डाउन में एनटीटी शिक्षकों को नियुक्ति देकर उनको अत्यन्त सेवाओं में लगाकर कार्य करवा सकती हैं |



हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |


" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |


विडियो देखने के लिए - https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 




अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512, 8058171770.




Post a comment

0 Comments