Vastu Shastra : भूलकर भी इन 5 चीज़ों को कभी न रखें अपने बेड के पास

जीवन अनमोल है इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !

संस्कार सृजन राम गोपाल सैनी

जयपुर (संस्कार सृजन) वास्तु शास्त्र का शाब्दिक अर्थ है "वास्तुकला का विज्ञान"। यह वास्तुकला की पारंपरिक भारतीय प्रणाली पर आधारित ग्रंथ हैं। अक्सर यह देखा गया है कि घर बनाते समय वास्तु शास्त्र का पालन करना स्वास्थ्य, धन और कई अन्य कारकों के लिए अत्यधिक फायदेमंद होता है।

हालांकि, वास्तु शास्त्र घर बनाते समय डिज़ाइन, लेआउट और माप, ज़मीन की तैयारी के सिद्धांतों का पालन करने तक ही सीमित नहीं है, यह जगह की व्यवस्था और स्थानिक जेमेटरी का भी वर्णन करता है। यह जानकर कि किस कमरे में और किस दिशा में क्या रखना है, यह आश्चर्यजनक रूप से स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार कर सकता है और आपके घर में सौभाग्य ला सकता है।

वास्तु उन सभी का ध्यान रखता है जिससे हम घिरे रहते हैं, खासतौर पर तब जब हम सोते हैं, जो हमारे स्वभाव, सोचने के तरीके, मीड और यहां तक कि शरीर के अंगों को प्रभावित कर सकते हैं। तो आइए जानें अंतर्राष्ट्रीय भविष्यवक्ता पंडित रविन्द्राचार्य से कि वास्तु शास्त्र के मुताबिक, आपके अपने कमरे में किन 5 चीज़ों बदलना चाहिए।

अंतर्राष्ट्रीय भविष्यवक्ता पंडित रविन्द्राचार्य

मोबाइल फोन्स :- 

जैसा कि यह स्पष्ट है कि वास्तु शास्त्र मूल रूप से एक विज्ञान है, इसलिए इसकी लिस्ट में टेक्नोलॉजी का होना ज़ाहिर है। क्योंकि फोन आज हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग है, इसलिए सोते समय भी इसे हमसे दूर रखना मुश्किल है। सोते समय कम से कम इसे तकिए के नीचे न रखें। यह कोई रहस्य नहीं है कि मोबाइल फोन लगातार मोबाइल टॉवर के संपर्क में रहते हैं, इसलिए यह बहुत अधिक इलेक्ट्रोमैगनेटिक रेडिएशन पैदा करता है। यह स्थिति और ख़राब तब हो जाती है, जब आपका फोन चार्ज हो रहा होता है या फिर नेटवर्क ख़राब होता है। हमारे फोन के आसपास मौजूद रेडिएशन हमारी दिमाग़ को क्षति पहुंचा सकता है और हमारी ग्रोथ को धीमा कर सकता है।

मोबाइल फोन या फिर टैब से होने वाले नुकसान से बचने के लिए सोते समय इसे स्विच ऑफ कर दें या फिर एयरप्लेन मोड पर रखें। अगर इसे स्विच ऑफ करना मुमकिन नहीं है, तो बिस्तर से दूर किसी टेबल पर रख दें।

WiFi राउटर :- 

आधुनिक तकनीक का हिस्सा होने के नाते, वाईफाई राउटर मोबाइल फोन से ज़्यादा सुरक्षित नहीं हैं। दरअसल ये फोन के मुकाबले ज़्यादा रेडिएशन पैदा करते हैं। इसलिए बेडरूम में वाईफाई राउटर्स लगाने से बचें। हालांकि, अगर कोई अन्य विकल्प नहीं है, तो कम से कम रात में इसे बंद कर दें।

सॉफ्ट टॉयेज़ :- 

अपने कमरे को सॉफ्ट टॉयेज़ से सजाना भले ही एक अच्छा आइडिया लगता हो, लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार यह एक अच्छा प्लान नहीं है। फिर चाहे आपके खिलौने कितने भी सॉफ्ट या क्यूट क्यों न हो, यह आपके आत्मविश्वास को कम करने की क्षमता रखते हैं। नरम खिलौने न केवल वातावरण से नमी, गंदगी और धूल सोखते हैं, बल्कि यह सभी नकारात्मक भावनाओं और बुरे इरादों को भी अपने अंदर ले लेते हैं। इसे अपने बेडरूम में रखने से आपकी नींद प्रभावित हो सकती है और आपको बुरे सपने और मानसिक परेशानी हो सकती है।

बॉक्स वाला बेड :- 

बॉक्स बेड एक आधुनिक आविष्कार है, जो आज की पीढ़ी में स्टोरेज की समस्या को हल करता है। जो लोग अपार्टमेंट में रहते हैं, उनके पास स्टोरेज के लिए उचित जगह नहीं होती, इसलिए लोग अपने बॉक्स बेड को सामान से भर लेते हैं। इसलिए, ऐसे बेड पर सोने से बचना चाहिए जहां हवा बिस्तर के नीचे स्वतंत्र रूप से प्रसारित नहीं हो सकती है। जब आप सुबह उठते हैं, तो इस भारी और अव्यवस्थित स्थान की वजह से हमेशा सुस्त महसूस करते हैं।

नेगेटिव या गहरे रंग की पेंटिंग :-

ज़्यादातर लोगों को अपने बेड के पीछे की दीवार पर या फिर बेडरूम में कहीं भी पेंटिंग लगाना पसंद होता है। अगर पेंटिंग के रंग ब्राइट या फिर खुशियों को दर्शाती है, तो यह आपको ज़रूर अच्छी नींद सोने में मदद करेगी। लेकिन अगर पेंटिंग गहरे रंग या फिर नेगेटिव इमोशन्स दर्शा रही है, तो इससे आपके मूड पर असर पड़ेगा। बेहतर यही है कि आप अपने कमरे में किसी तरह की पेंटिंग न लगाएं।


हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |

" संस्कार सृजन " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |

विडियो देखने के लिए -https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 

अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512,9929701157.


इमरजेंसी नंबर :- पुलिस कंट्रोल रूम- 100, चौमूं थाना - 01423-221009, डीसीपी पूर्व- 0141-2203400, एसीपी चौमूं -01423-221456, गोविंदगढ़ थाना-01423-230023, डीएसपी गोविंदगढ़-01423-230905, जयपुर ग्रामीण एसपी-0141-2206869, एंबुलेंस-108, सीएचसी चौमूं -01423-221424, सीएचसी गोविंदगढ़ - 01423-230077, सीएचसी सामोद-01423-240105, बिजली हेल्पलाइन-6376917467, एक्स ईएन चौमूं-01423-220069, एईएन प्रथम-01423-220006, एईएन द्वितीय-01423-220013, निगम सामोद-01423-240004.

Post a Comment

0 Comments