Ad Code

किन लोगों को मिलेगा मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना का लाभ

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !

मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !

संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी 

जयपुर (संस्कार न्यूज़) प्रदेश के सभी निवासियों को चिकित्सा बीमा का लाभ देने के लिये राज्य सरकार अप्रेल में मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना का शुभारम्भ करने जा रही है जिसकी तैयारियों के संबंध में आज मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने अधिकारियो की बैठक ली। 

मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री की बजट घोषणा और मंशा के अनुरूप राजस्थान देश में ऎसा पहला प्रदेश है जो अपने निवासियो को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सुविधाएं मुहैया करवाने के लिये यूनिवर्सल हैल्थ कवरेज लागू करने जा रहा है। इस योजना से प्रदेश के प्रत्येक परिवार को 5 लाख रूपये तक का चिकित्सा बीमा उपलब्ध हो सकेगा जिससे वे सरकारी के साथ-साथ सम्बद्ध निजी चिकित्सालयों में भी चिकित्सा सुविधा का लाभ प्राप्त कर पायेंगे। 

उन्होेंने बताया की योजना का लाभ लेने के लिये लाभार्थी 1 अप्रेल 2021 से अपनी एसएसओ आईडी अथवा ई-मित्र पर जनआधार से लिंक प्लेटफॉर्म से रजिस्टे्रशन करवा सकते हैं। योजना का लाभ 1 मई 2021 से पूरे प्रदेश में दिया जायेगा। मुख्य सचिव ने योजना से जुडे सभी अधिकारियाें को योजना को जमीनी स्तर पर सफल क्रियान्वित करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्हाेंने योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने और आमजन तक योजना की जानकारी पहुचांने के लिये विशेष प्रयास करने के निर्देश दिए।

बैठक में चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव सिद्वार्थ महाजन ने बताया कि योजना के तहत 5 लाख रूपये की  बीमा राशि प्रति परिवार प्रति वर्ष देय होगी। वर्तमान मे आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत 1576 बीमारियाें को कवर किया गया है। उन्हाेंने बताया कि प्रति परिवार प्रति वर्ष 1662 रूपये का प्रीमियम राज्य सरकार द्वारा दिया जाता है। 

राजस्थान स्टेट हैल्थ एश्योरेन्स एजेन्सी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीमती अरूणा राजोरिया ने बताया कि मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के अनुरूप राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र लाभार्थियों के साथ-साथ अब मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना से संविदाकर्मियों, लघु एवं सीमांत कृषकों को निःशुल्क चिकित्सा सुविधा का लाभ मिल पायेगा। इसके अतिरिक्त प्रदेश के सभी अन्य परिवारों को बीमा प्रीमियम की 50 प्रतिशत राशि पर वार्षिक 5 लाख रूपये तक की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। उक्त प्रीमियम भुगतान डेटाबेस को राजस्थान स्टेट हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी द्वारा संधारित एवं अपडेट किया जायेगा। 

राजस्थान स्टेट हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी के संयुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी काना राम ने बताया कि बैठक में राजस्थान स्टेट हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी की वार्षिक कार्य-योजना को प्रस्तुत किया गया है जिसे चर्चा और जरूरी दिशा-निर्देशों के साथ अनुमोदित किया गया। बैठक में राजस्थान स्टेट हेल्थ एश्योरेंस एजेंसी के सुदृढीकरण पर चर्चा हुई और जिला स्तर तक योजना की गहन मॉनिटरिंग और क्रियान्वयन हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किये गए।

बैठक में वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अखिल अरोड़ा, सूचना एवं प्रोद्यौगिकी विभाग के प्रमुख सचिव अजिताभ शर्मा, कार्मिक विभाग के प्रमुख सचिव हेमंत गेरा, कृषि विभाग के प्रमुख सचिव कुंजीलाल मीणा, राजस्व विभाग के प्रमुख सचिव आंनद कुमार, खाद्य विभाग के सचिव नवीन जैन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।  

हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |

" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |

विडियो देखने के लिए -https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 

अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512,9929701157.

Post a comment

0 Comments