अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राखी शुक्ला का हुआ सम्मान

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !

मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !

संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी 

जयपुर (संस्कार न्यूज़) पिंकसिटी प्रेस क्लब जयपुर में आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर नेशनल वेलफेयर कॉन्सलिंग समिति  और विवेकानंद ग्लोबल यूनिवर्सिटी के संयुक तत्वावधान में 51 सशक्त महिलाओं का सम्मान किया गया।


 
महिला दिवस पर समाज सेविका  रक्षा जीवन की फाउंडर राखी शुक्ला को  उनके  उल्लेखनीय कार्यों के लिए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मानित किया गया |  राखी शुक्ला रोटी बैंक पिछले 6 साल से चला रही है। कई बाल श्रमिकों को मुक्ति दिलवा चुकी | राखी लड़कियों, महिलाओं को शिक्षित करने पर कार्य कर रही है।  

कार्यक्रम के अध्यक्ष एसएन तिवारी, कार्यक्रम के आयोजक विवेकानंद ग्लोबल यूनिवर्सिटी की डीन डॉ.श्वेता चौधरी मुख्य अतिथि थी । अतिथि पत्रकार अनिल द्विवेदी, संपादक गोविंद विजय पांडे  ने सबको सम्मानित किया ।  

इस दौरान 51 महिलाओं का सम्मान किया गया जिन्होंने अलग-अलग विषयों में अपना उत्कृष्ट कार्य किया | कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण लोक कलाकार  मीना सपेरा का कालबेलिया नृत्य था | राखी शुक्ला ने महिलाओ को प्रेरित करने वाली अपनी शानदार शायरी ,कविता से मंच संचालन कर सबका दिल जीत लिया । 

महिलाओं ने अपने अपने विचार प्रकट किए और समाज में क्या बदलाव किया जाए उस पर चर्चा की गई। राखी शुक्ला ने कहा है कि महिलाएं तभी सशक्त होगी जब वे अपने आप में  की शक्ति पहचानेगी । आत्मविश्वास रखेगी और साथ ही आने वाली जनरेशन के लिए भी राखी ने संदेश दिया कि अगर हम महिलाएं अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देंगी तो ही  महिलाओं का सम्मान मिलेगा |  लैंगिग असमानता के चलते  बेटी बचाना है और बेटी को शिक्षित भी  करना है। महिलाएं जब भी परेशानी में  हो तब  निराश न हो क्योंकि संघर्ष के बाद ही जीवन में सफलता मिलती है | 


हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |

" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |

विडियो देखने के लिए -https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 

अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512,9929701157.

Post a comment

0 Comments