Ad Code

Rajasthan: कुत्ते के काटने से गाय को हुआ रेबीज

 जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !

मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !

संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी 

उदयपुर (संस्कार न्यूज़) उदयपुर में हिरणमगरी के सेटेलाइट अस्पताल में एक ही परिवार के तेरह सदस्य एक साथ रेबीज की वैक्सीन लगवाने पहुंचे। उन्होंने बताया कि उनकी गाय को एक कुत्ते ने काट लिया, जिससे उसे रेबीज हो गया और उसका दूध पीने से उन्हें भी रेबीज का खतरा है। इसके बाद सभी को एंटी रेबीज वैक्सीन लगवाई गई।


 
मामला उदयपुर के समीप तीतरड़ी क्षेत्र का है। यहां देवेन्द्र सिंह सिसोदिया की पालतू गाय को पिछले दिनों एक कुत्ते ने काट लिया। गाय का दूध परिवार के सभी सदस्य पी रहे थे। गुरुवार को उनकी गाय बीमार हो गई और पागल जैसी हरकत करने लगी, उसके उपचार के लिए गुरुवार शाम पशु चिकित्सक को बुलाया गया।
यह भी पढें - बीच वीडियो में फिसली उर्वशी रौतेला की ड्रेस

पशु चिकित्सक ने गाय के रेबीज रोग से ग्रस्त होने की आशंका जताई। उन्होंने बताया कि रोगी गाय का दूध पीने से उनके परिवार के सदस्यों को रेबीज होने का खतरा है। इसके बाद सेटेलाइट अस्पताल में सिसोदिया परिवार के सभी तेरह सदस्यों को एंटी रेबीज वेक्सीन और टिटनस वैक्सीन लगवाई गई। अस्पताल के प्रभारी चिकित्सक डॉ. किशनलाल धानक ने बताया कि पहली बार इस तरह का मामला सामने आया है। गाय को रेबीज होने पर उसका दूध पीने से रेबीज होने का खतरा संभव है। हालांकि दूध उबाल कर पीने से संभावना कम रहती है, लेकिन लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। सिसोदिया परिवार के सभी सदस्य स्वस्थ हैं और उन्हें एंटी रेबीज वैक्सीन के साथ टीटी वैक्सीन भी लगवा दी गई है। इस घटना की जानकारी मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी के अलावा आरएनटी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसीपल को भी दी गई है। 

गौरतलब है कि सिडनी विश्वविद्यालय से वेटरनरी इपिडिमियोलॉजिस्ट ले. कर्नल हरीश तिवारी बताते हैं कि कुत्तों में वैक्सीनेशन बहुत जरूरी है तभी हम इस रोग पर पूरी तरह से रोक लगा सकते हैं। वैक्सीनेशन करने के बाद यह आगे नहीं बढ़ेगा। लुधियाना के गुरु अंगद देव वेटरनरी एंड एनिमल साइंस विश्वविद्यालय से वेटनरी पैथलॉजी विभाग के हेड डॉ सीके सिंह ने बताया कि रेबीज पहले डाइग्नोज नहीं होता, अगर यह पशुओं में पहले ही डाइग्नोज हो जाए तो इसको रोका जा सकता है। उन्होंने बताया कि पीसीआर व एलाइजा टेस्ट के माध्यम से इसे डायग्नोज किया जा सकता है। इसके लिए वेटेनेरियन पशु के मुंह या मूत्र से सैंपल ले सकता है।


हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |

" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |

विडियो देखने के लिए -https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 

अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512,9929701157.

Post a comment

0 Comments