Ad Code

योग का शाब्दिक अर्थ है जुड़ना

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !


मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !




संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी / गोविंद सैनी 


सीकर @ (संस्कार न्यूज़ ) योग का शाब्दिक अर्थ है जुड़ना। अपने आप को अपने आप से जोड़ना और अपने आप को ईश्वर शक्ति से जोड़ना ना कि एक दूसरे से जोड़ना। योग का अर्थ है स्वयं से जुड़ना  |



कोरोना महामारी के लिए योग इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ-साथ ही कोरोना के लिए जो जरूरी दिशा निर्देश है सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करता है ,क्योंकि योग एकांत में करने की एक कला है ,विद्या है । अगर हम प्रशिक्षण के लिए समूह में भी योग करते हैं तब भी योग के दौरान मनुष्य एक दूसरे से कम से कम 2 या 3 फीट की दूरी रखता है और स्वयं के लिए भी अपने शरीर जितनी दूरी वह कवर करता है ।


इसके साथ ही सैनिटाइजिंग योग से मन का शुद्धिकरण होता है प्राणायाम योग आसनों से मन एवं शरीर की शुद्धि होती है इसलिए योग से आत्मा और शरीर दोनों सैनिटाइज भी होते है इसके अलावा हम जैसे मास्क लगाते हैं तो फिर हम योग करेंगे तो हमें प्राण वायु प्राणशक्ति इतनी मजबूत होगी कि बाहरी जो संक्रमित जो वायु है वह हमें नुकसान नहीं पहुंचा पाएगी क्योंकि हम अंदर से इतने मजबूत हो जाएंगे।


लेखक  - आलोक कौशिक
योग एवं प्राकृतिक चिकित्सक




हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |



" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |


विडियो देखने के लिए - https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 




अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512, 8058171770.









Post a comment

0 Comments