Ad Code

सच्ची मोहब्बत : 12 साल की प्रेम कहानी

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !

मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !

संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी

 चंडीगढ़ (संस्कार न्यूज़ ) कौन कहता है, प्यार सिर्फ एक नजर का होता है, अगर दिल से दिल मिले हों तो कोई मुसीबत प्यार करने वालों को जुदा नहीं कर सकती।  चंडीगढ़ के सेक्टर-28 के रिहैब सेंटर में 12 साल पुराने प्यार को बचाने के लिए अनामिका ने दिव्यांग राहुल का हाथ थामा। यह कोई सामान्य शादी नहीं बल्कि एक सच्चे प्यार की निशानी भी है।



अनामिका और राहुल की कहानी किसी फिल्म से कम नहीं है। दोनों एक दूसरे को वर्ष 2000 से जानते थे। नौ साल की उम्र में फतेहगढ़ में एक-दूसरे के साथ पड़ोसी के रूप में दोनों की पहचान हुई थी। 2008 से दोनों एक-दूसरे को पसंद करने लगे। राहुल ने बताया कि किसी भी काम को करने से पहले वह अनामिका से जरूर मिलता था लेकिन 13 मार्च, 2016 का वह काला दिन उसके जीवन में आया। जब वह अनामिका से मिले बिना एएओ की परीक्षा देने निकल गया।

एक दोस्त के साथ जाते समय बाइक अचानक फिसल गई। हादसे में उसकी पीठ में चोट आई। दोस्तों ने उसेे अस्पताल पहुंचाया। हादसे के कारण शरीर का निचला हिस्सा पूरी तरह से लकवाग्रस्त हो गया लेकिन अनामिका ने मुझे कभी यह महसूस नहीं होने दिया कि मैं दिव्यांग हूं।

चंडीगढ़ के सेक्टर-28 के रिहैब सेंटर की संस्थापक और सीईओ निकी पी. कौर ने कहा कि इस साल ही जब राहुल को इंटरनेट से हमारे इस सेंटर के बारे में पता चला तो सितंबर में हमारे पास इलाज के लिए आए। राहुल अभी हाल ही में एक नौकरी पाने में भी कामयाब रहे।

राहुल ने बताया कि पिता सेना में थे और मां व बहन शिक्षिका हैं। उनके नौकरी पर जाने के बाद मैं घर पर अकेला ही रह जाता था। इस दौरान अनामिका मेरा ख्याल रखती थी। अनामिका ने कहा कि उन्होंने अपने परिवार को शादी के लिए मनाया लेकिन उनके परिवार ने मना कर दिया था।

हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |

" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |

विडियो देखने के लिए -https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 

अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512,9929701157.



Post a comment

0 Comments