Ad Code

कांग्रेस का अगला अध्यक्ष गांधी-नेहरू परिवार से बाहर का

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !


मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !


संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी / गोविंद सैनी 


नई दिल्ली @ (संस्कार न्यूज़ ) कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गांधी-नेहरू परिवार से बाहर के शख्स को कांग्रेस पार्टी की कमान सौंपने की वकालत की है। उन्होंने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की राय का समर्थन किया है। राहुल ने कहा था कि  गांधी परिवार के बाहर के व्यक्ति को पार्टी का अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए। प्रियंका ने कहा कि शायद राहुल ने इस्तीफा वाले पत्र में नहीं, लेकिन कहीं और कहा था कि गांधी-नेहरू परिवार से कोई पार्टी का अध्यक्ष नहीं होना चाहिए। मैं उनकी बात से पूरी तरह सहमत हूं। यह दावा 13 अगस्त को प्रकाशित 'इंडिया टुमॉरो' किताब में किया गया है। प्रदीप चिब्बर और हर्ष शाह इस किताब के लेखक हैं।























गांधी परिवार से नहीं होगा पार्टी अध्यक्ष पर 'बॉस' होगा


किताब के अनुसार प्रियंका ने पार्टी के अध्यक्ष पद के मुद्दे पर आगे कहा कि अध्यक्ष भले ही गांधी परिवार से न हो, लेकिन वह उनका बॉस होगा और वह उनकी हर बात मानेंगी। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी अध्यक्ष मुझे कहते हैं कि तुम्हारी जरूरत उत्तर प्रदेश में नहीं, बल्कि अंडमान और निकोबार में है, तो मैं खुशी-खुशी चली जाऊंगी।


2019 के लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राहुल गांधी ने दिया था इस्तीफा


आपको बता दें कि 2019 लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन इतना खराब रहा कि राहुल खुद अमेठी से चुनाव हार गए थे। इस्तीफे के बाद राहुल ने पार्टी की एक बैठक में कहा था कि अगला अध्यक्ष कोई गांधी-नेहरू परिवार से बाहर का शख्स होना चाहिए। हालांकि, पिछले साल अगस्त में सोनिया गांधी को पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया था और पिछले एक साल में पार्टी के नेताओं ने राहुल गांधी को फिर से अध्यक्ष बनाने की कई बार मांग की है।
































क्या है किताब में ??


'इंडिया टुमॉरो' किताब के अनुसार 2019 लोकसभा चुनाव से ठीक पहले राजनीति में कदम रखने वालीं प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी को खुद से अधिक बुद्धिमान और अपना सबसे अच्छा मित्र बताया है। साथ ही उन्होंने अपने पति रॉबर्ट वाड्रा पर लगे आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताया है। इसके अलावा प्रियंका गांधी के 1984 में उनकी दादी इंदिरा गांधी की हत्या के बाद अगले 7 साल यानी 1991में उनके पिता राजीव गांधी की हत्या तक डर के माहौल में जीने का भी जिक्र है। 



हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें|


" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |



विडियो देखने के लिए - https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 




अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512, 8058171770.






 










Post a comment

0 Comments