Ad Code

इस चीज से शिव का अभिषेक करने पर शत्रुओं का नाश होता है

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !


मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !



संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी / गोविंद सैनी 


चौमूं @ (संस्कार न्यूज़ ) तारा ज्योतिष साधना केंद्र के अंतरराष्ट्रीय भविष्यवक्ता पंडित रविंद्र आचार्य ने बताया कि भगवान शंकर की साधना का पावन महीना सावन इस बार 6 जुलाई से शुरू होगा | सावन मास सोमवार से शुरू होकर सोमवार को ही विदा होगा | 6 जुलाई से शुरू हो रहे सावन मास की शुरुआत का पहला दिन ही सोमवार है तथा आखिरी दिन 3 अगस्त को भी सोमवार रहेगा |इस बार सावन में पांच सोमवार होंगे | सावन के समापन पर पूर्णिमा पर रक्षाबंधन पर्व मनाया जाएगा |



पंडित रविंद्र आचार्य ने बताया कि सावन की शुरुआत उत्तराषाढ़ा नक्षत्र वेधृती योग कोलव गर करण मैं होगी | इसके साथ चंद्रमा मकर राशि में विचरण करेगा | सावन मास में आने वाली अमावस्या को क्षावणी अमावस्या या हरियाली अमावस्या कहते हैं | प्रत्येक अमावस्या की तरह क्षावणी अमावस्या पर भी पितरों की शांति के लिए पिंडदान और दान धर्म करने का महत्व है | इस बार यह सोमवार को मिलने के कारण सोमवती अमावस्या भी आएगी | इस दिन सूर्य और चंद्रमा दोनों मित्र ग्रह कर्क राशि में रहने के कारण भगवान शिव के भक्तों को आराधना का फल देने में सहायक सिद्ध होंगे |


शिव का अभिषेक करने से लक्ष्मी प्राप्ति होती है, घर में सुख शांति होती है | शिव जी के 11 नागकेसर के दाने ओम शिवाय नमः ओम नमः शिवाय बोलकर चढ़ाने पर सभी मनोकामना पूर्ण होती है | शहद से अभिषेक करने पर पापों का नाश होता है | घी से अभिषेक करने पर जीवन में आरोग्यता आती है ,वंश वृद्धि होती है | सरसों के तेल से भगवान का अभिषेक करने पर शत्रुओं का नाश होता है | मोक्ष की कामना के लिए तीर्थों के लिए जल का अभिषेक किया जाता है|  भोलेनाथ के महामृत्युंजय जाप करने से बड़ी से बड़ी बीमारी भी ठीक हो जाती है |


हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |



" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |


विडियो देखने के लिए - https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 




अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512, 8058171770.





 



Post a comment

0 Comments