Ad Code

कांग्रेस मजदूरों के घर लौटने का टिकट खर्च उठाएगी : सोनिया गांधी

घर पर रहें , सुरक्षित रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !


संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी / गोविंद सैनी


दिल्ली @ (संस्कार न्यूज़ ) कोरोना महामारी ने दैनिक मजदूरी करने वाले लोगों के लिए जीवन का संकट खड़ा कर दिया है | लॉक  डाउन का तीसरा चरण शुरू हो चुका है | देश के विभिन्न राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य वापस भेजने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं | लेकिन इसके लिए उन्हें किराया चुकाना पड़ रहा है |



कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज बयान जारी कर सरकार पर निशाना साधा है कि विदेश में फंसे भारतीयों को मुफ्त में वापस लाया गया, जबकि कामगारों से किराया वसूला जा रहा है  | ऐसे में उन्होंने फैसला लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक और कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी और जरूरी कदम उठाएगी |


कांग्रेस अध्यक्षा ने बयान जारी कर कहा श्रमिक  व कामगार देश की रीड की हड्डी है ,उनकी मेहनत और कुर्बानी राष्ट्र निर्माण की नींव  है | सिर्फ 4 घंटे के नोटिस पर लॉक डाउन करने के कारण लाखों श्रमिक व कामगार घर वापस लौटने से वंचित हो गए |


1947 के बंटवारे के बाद देश ने पहली बार यह दिल दहलाने वाला मंजर देखा है कि हजारों श्रमिक और कामगार सैकड़ों किलोमीटर पैदल चलकर घर वापसी के लिए मजबूर हो गए | सभी को सिर्फ एक ही चीज दिखाई दे रही है , न राशन, न पैसा, न दवाई, न धन, पर केवल अपने परिवार के पास वापस गांव पहुंचने की लगन है |


उनकी व्यथा यह सोचकर ही हर मन कांपा और फिर उनकी दृढ़ निश्चय और संकल्प को हर भारतीय ने सराहा भी | प्रदेश और सरकार का कर्तव्य क्या है ? आज भी लाखों श्रमिक व कामगार पूरे देश के अलग-अलग कोनों से घर वापस जाना चाहते हैं  | पर न साधन है और न पैसा |



सोनिया गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी मजदूरों के टिकट का खर्च उठाएगी | भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने मेहनतकस श्रमिकों और  कामगारो कि इस निशुल्क रेल यात्रा की मांग को बार-बार उठाया है | दुर्भाग्य से न तो सरकार ने एक सुनी और नहीं रेल मंत्रालय ने  | इसलिए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी और जरूरी कदम उठाएगी | मेहनतकस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होने के मानव सेवा के इस संकल्प में कांग्रेस का यही योगदान होगा |


फिर एक बार केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता ने कहा दुख की बात यह है कि भारत सरकार में रेल मंत्रालय इन श्रमिकों से मुश्किल की इस घड़ी में रेल यात्रा का किराया वसूल रहे हैं | श्रमिक व कामगार राष्ट्र निर्माण के दूत हैं | जब हम विदेश में फंसे भारतीयों को अपना कर्तव्य समझकर हवाई जहाजों से निशुल्क वापस लेकर आ सकते हैं | जब हम गुजरात के केवल एक कार्यक्रम में सरकारी खजाने से 100 करोड रुपए ट्रांसपोर्ट ,भोजन इत्यादि पर खर्च कर सकते हैं | जब रेल मंत्रालय प्रधानमंत्री के कोरोना फण्ड में 151 करोड रुपए दे सकता है, तो फिर तरक्की के इन ध्वजवाहकों  को आपदा की इस घड़ी में निशुल्क यात्रा की सुविधा क्यों नहीं दे सकते ?


चौमूं विधानसभ के पूर्व विधायक भगवान सहाय सैनी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी के इस फेसले का स्वागत किया है | और कहा है कि कांग्रेस का हाथ हमेशा गरीब के साथ रहा है |




हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |



" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |


विडियो देखने के लिए लिंक को टच करें - https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 




अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512, 8058171770.








Post a comment

0 Comments