बेटी को घोड़ी पर बैठाकर निकाली बिंदोरी

जीवन अनमोल है इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !

मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !

संस्कार न्यूज़ राम गोपाल सैनी

चौमूं (संस्कार न्यूज़) टांकरडा ग्राम में रेगर समाज की बेटी को घोड़ी पर बैठाकर बिंदोरी निकाली गई। लड़की के पिता हनुमान सहाय नुवाल ने अपनी पुत्री ममता को घोड़ी पर बैठाकर बिन्दोरी निकाल कर बेटा-बेटी एक समान होने का संदेश दिया है। 

लड़की के बड़े भाई विनोद ने बताया कि बहिन ममता की शादी जयपुर शास्त्री नगर निवासी रमेश अटोलिया के पुत्र जितेंद्र के साथ होगी। स्थानीय निवासी सुरेंद्र सिंह हरसोलिया ने बताया कि वैश्विक माहमारी कोरोना के चलते सरकार द्वारा दी गई गाइडलाइन की पालना करते हुए बेटी के पिता हनुमान सहाय नुवाल ने अपनी पुत्री ममता को घोड़ी पर बैठाकर डीजे के साथ बिंदोरी निकाली। इस अनोखी बिंदोरी को देखकर राह चलने वाले लोग रुक गए। 

नुवाल परिवार द्वारा समाज में व्याप्त बुराइयों व भेद-भाव को मिटाकर बेटा-बेटी को एक समान दर्जा देकर समाज में अनूठी पहल कायम की है। जिसकी सभी ग्रामवासियों ने सराहना की है। 

दुल्हन बनी नुवाल परिवार की ममता कहती है कि मेरे माता-पिता ने मुझे लड़कों की तरह पाला है एवं लड़के - लड़कियों में कोई भेदभाव नहीं समझा है।


हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें |

" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |

विडियो देखने के लिए -https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 

अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512,9929701157.

Post a comment

0 Comments