Ad Code

राहु के राशि परिवर्तन से कोराना का असर कम होने की संभावना

जीवन अनमोल है , इसे आत्महत्या कर नष्ट नहीं करें !


मास्क लगाकर रहें ! सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें !


संस्कार न्यूज़ @ राम गोपाल सैनी / गोविंद सैनी 



चौमूं @ (संस्कार न्यूज़ ) राहु ग्रह 23 सितंबर को मिथुन राशि से वृषभ राशि में गोचर करेगा | इसी प्रकार केतु का गोचर 23 सितंबर को ही सुबह 7:38 बजे धनु राशि से वृश्चिक राशि में होगा | यह 12 अप्रैल 2022 सुबह 8:44 तक रहेगा | इसका कई राशियों पर शुभ और अशुभ दोनों तरह का प्रभाव पड़ेगा |



अंतर्राष्ट्रीय भविष्यवक्ता पंडित रविंद्र आचार्य  ने बताया कि सितंबर में राहु और केतु अपनी चाल बदलेंगे | इन दोनों ग्रहों के गोचर से राशि जातकों के साथ ही राज और प्रशासन पर असर देखने को मिलेगा | मेष, सिंह ,कर्क ,वृश्चिक राशि वालों के लिए लाभदायक रहेगा |वहीं अन्य राशियों के लिए प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है | राहु ग्रह 23 सितंबर को मिथुन राशि से वृष राशि में गोचर करेगा | यहां 12 अप्रैल 2022 तक स्थित रहेगा  | पंडित रविंद्र आचार्य ने बताया कि राहु का यह राशि परिवर्तन इस साल की सबसे बड़ी ज्योतिषीय घटनाओं में से एक होगी | इसी प्रकार केतु का गोचर 23 सितंबर को ही सुबह 7 बजकर 38 मिनट पर धनु राशि से वृश्चिक राशि में होगा | यहां 12 अप्रैल 2022 सुबह 8:44 तक रहेगा | इसका कई राशियों पर शुभ और अशुभ दोनों तरह का प्रभाव पड़ेगा | इसे मंगल का छाया ग्रह माना जाता है |


पंडित रविंद्र आचार्य अंतरराष्ट्रीय भविष्यवक्ता ने बताया कि राहु के राशि परिवर्तन से कोराना का असर न्यूनतम स्थिति में आने की संभावना है | राहु के राशि परिवर्तन से अचानक लाभ ! अचानक कष्ट या नुकसान देखने को मिल सकता है | प्रदेश और  देश के विकास में सहायक होगा | तो सत्ता पक्ष में बेचैनी बनाएगा | राहु में जहां शनि के गुण होते हैं ,तो केतु में मंगल के गुण हैं |



हम सभी किसी ना किसी रूप में जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं | पड़ोसी भूखा नहीं सोए इसका ध्यान रखें|


" संस्कार न्यूज़ " कोरोना योद्धाओं को दिल से धन्यवाद देता है |



विडियो देखने के लिए - https://www.youtube.com/channel/UCDNuBdPbTqYEOA-jHQPqY0Q 




अपने आसपास की खबरों , लेखों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9214996258, 7014468512, 8058171770.






Post a comment

0 Comments